Reprogram Subconscious Mind Can Be Fun For Anyone






जॉब में प्रमोशन की बात हो तो उसके साथ वो फिर ये भी बात कर सकती थी कि प्रमोशन के बाद वो कैसी पर्स लेकर ऑफिस जाया करेंगी या कैसे कपडे पहनेंगी. जहाँ तक करियर की बात है, सुमति को कोई अंदाजा नहीं था कि इस नए जीवन में उसका क्या करियर है या क्या जॉब है. शादी के बाद वो काम कर सकेगी या नहीं? भले ही घर की छोटी छोटी चीजें वो संभालना चाहती थी पर वो अपनी जॉब नहीं छोड़ना चाहती थी… चाहे जैसी भी जॉब हों. और फिर क्या वो शादी के बाद माँ बनना पसंद करेगी? बड़ा भारी सवाल था जिसका जवाब अभी वो सोचना नहीं चाहती थी.

A lousy concern many people ask on their own when a little something goes Erroneous or they have a obstacle in life is: “why does this constantly come about to me?”

Using subliminal audios or video clips is useful on the Subconscious mind regardless of whether completed although asleep or awake. Just as the Acutely aware mind is listening to the music becoming played or even the online video remaining watched, the Subconscious mind is Listening to the concealed data recorded underneath the audio or online video.

सुमति का सर दर्द अब और बढ़ता ही जा रहा था. न जाने कितने नयी यादें उसकी आँखों के सामने दौड़ने लगी थी. उसका सर चकरा रहा था. और उस वक़्त उसके हाथों से उसकी साड़ी छुट कर निचे गिर गयी. उसने अपने सर को एक हाथ से पकड़ कर संभालने की कोशिश की. पर सुमति अब खुद को संभाल न सकी और वो बस निचे गिरने ही वाली थी. कि तभी चैतन्य ने दौड़कर उसे सही समय पर पकड़ लिया. सुमति अब चैतन्य की मजबूत बांहों में थी. उसके खुले लम्बे बाल अभी फर्श को छू रहे थे. और सुमति की आँखों के सामने उसके होने वाले पति का चेहरा था. चैतन्य की बड़ी बड़ी आँखें, उसके मोटे डार्क होंठ और हलकी सी दाढ़ी.. सुमति अपने होने वाले पति की बांहों में उसे इतने करीब से देख रही थी. और चैतन्य मुस्कुराते हुए सुमति को बेहद प्यार से सुमति की कमर पर एक हाथ रखे पकडे हुए थे, वहीँ उसका दूसरा हाथ सुमति की पीठ को छू रहा था.

“माँ, बाबूजी, आप लोग बैठ कर थोड़ी देर आरम करिए. आप यात्रा करके थक गए होंगे. मैं तुरंत ही आप लोगो के लिए नाश्ता बनाकर लाती हूँ.”, सुमति ने प्रशांत और कलावती से कहा. पर मन ही मन वो सोच रही थी कि उसने ये सब क्यों कह दिया.

‘What might sound like skepticism winds up as affirmation due to poet's commitment to honesty.’

फिलहाल तो मन रोने को तैयार था, पर अब उसके पास एक खुबसूरत औरत का तन भी तो था. एक मौका जिसके लिए लिए वो सारी ज़िन्दगी प्रार्थना करती रहती थी कि उसे औरत की तरह जीवन जीने का मौका मिल जाए. पर ये समय यह सब सोचने का न था. उसे अपने सास-ससुर के लिए नाश्ता बनाना था.. शादी के बारे में वो बाद में शान्ति से सोच लेगी.

“दोनों ही माँ-बेटी ड्रामा क्वीन हो! चलो, अब काम पर लग जाओ.. लोग आते ही होंगे.”, अंजलि ने हँसते हुए कहा.

सुमति को आज बहुत काम करने थे इसलिए उसने एक हलकी क्रेप साड़ी पहनना तय किया. आज तो इस क्लब के लिए ख़ास दिन है. और आज इस क्लब में बहुत भीड़ भी होने वाली है. बेचारी सुमति को भी न आज न जाने कितने काम करने है. अगले एक घंटे में आदमियों का झूंड जो इकट्ठा हो जाएगा और फिर शुरू होगा here उनका ट्रांसफॉर्मेशन सुन्दर औरतों में! कोई अनारकली पहन इठलायेगी, तो कोई बड़े से घेरे वाली लहंगा चोली पहन कर बलखाएगी, कोई छोटी छोटी वेस्टर्न ड्रेस पहन कर इतराएगी तो कोई फूल के प्रिंट वाली साड़ी पहन कर शर्माएगी या फिर साउथ इंडिया की सिल्क साड़ी पहन कर मुस्कुराएगी. जल्दी ही सुमति का घर उस घर में बदल जायेगा जहां मानो शादी की तैयारियां हो रही होगी और कहीं दुल्हन और उसकी सखियाँ सज संवर कर तैयार हो रही होगी.

वैसे भी सुमति और अंजलि दोनों साड़ी पहनने में एक्सपर्ट थी. अंजलि ने जल्दी से एक हलकी हरी रंग की साड़ी पसंद की जो थोड़ी अधिक फैंसी थी पर फिर भी सुमति के लिए आसान रहेगी सँभालने को. अंजलि ने सुमति के तन पर जल्दी से उस सुन्दर सी साड़ी को लपेटना शुरू की, और सुमति अपना ब्लाउज बदल रही थी. फिर अंजलि ने सुमति की प्लेट बनाने में मदद की और पिन लगाने लगी ताकि साड़ी खुलने का डर ही न रहे!

While you deal with positive ideas, affirmations, and mantras all through this deeply comfortable point out, your subconscious will right away commence to respond and settle for these positives as reality for you personally. You could meditate by sitting down, lying flat in mattress or even walking.

Craft a beneficial mantra. When panic or strain occurs, relaxed your nerves and quell detrimental feelings by repeating a personally crafted mantra. Constant use of your mantra will subdue adverse ideas and steps that come up out of your subconscious mind. Detect your unfavorable feelings and take that your self-judgement is unfounded. Produce a therapeutic mantra by identifying the other of the self-judgemental declare.

‘As aged as I am, nearly anything favourable as inside of a good affirmation from my father indicates a lot of to me.’

Facts filtering. If our conscious minds experienced to handle the two-million bits of information we expertise every waking next, we would be quickly overwhelmed, paralyzed from the sheer volume of data. Powering the scenes our subconscious mind correctly filters out all pointless info, making sure only A very powerful and suitable nuggets ensure it is into the surface area.

1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15

Comments on “Reprogram Subconscious Mind Can Be Fun For Anyone”

Leave a Reply

Gravatar